राम और ईसा मसीह हमारे लिए प्रेरणा के स्रोत क्‍यों हैं? Rama & Jesus – Inspiration [Hindi Dub]



इससे फर्क नहीं पड़ता कि दुनिया आप पर क्या उछालती है, उसे अगर आप अपनी खुशहाली में बदल सकें, तो आप जहाँ भी जाएं, जिस तरह के हालात में जिएँ, चाहे आप स्वर्ग जाते हैं या नर्क, कोई फर्क नहीं पड़ेगा, क्योंकि आप जानते हैं कि आप उसे अपनी खुशहाली में बदल देंगे। यही वो गुण है जिसकी हम पूजा करते हैं। सद्‌गुरु राम व ईसा मसीह के जीवन का उदाहरण देते हुए इस बात को गहराई से समझा रहे हैं।

Original English video: https://www.youtube.com/watch?v=chb6F9Q7CWU

ईशा फाउंडेशन हिंदी ब्लॉग
http://isha.sadhguru.org/hindi

सद्‌गुरु का ओफ़िशिअल हिंदी फेसबुक चैनल
http://www.facebook.com/SadhguruHindi

सद्‌गुरु का ओफ़िशिअल हिंदी ट्विटर प्रोफाइल
http://www.twitter.com/SadhguruHindi

सद्‌गुरु का नि:शुल्क ध्यान ईशा क्रिया सीखने के लिए:
http://hindi.ishakriya.com

एक योगी, युगदृष्टा, मानवतावादी, सद्‌गुरु एक आधुनिक गुरु हैं, जिनको योग के प्राचीन विज्ञान पर पूर्ण अधिकार है। विश्व शांति और खुशहाली की दिशा में निरंतर काम कर रहे सद्‌गुरु के रूपांतरणकारी कार्यक्रमों से दुनिया के करोडों लोगों को एक नई दिशा मिली है। दुनिया भर में लाखों लोगों को आनंद मार्ग में दीक्षित किया गया है।

देखें: http://isha.sadhguru.org

source

Fahad Hameed

Fahad Hashmi is one of the known Software Engineer and blogger likes to blog about design resources. He is passionate about collecting the awe-inspiring design tools, to help designers.He blogs only for Designers & Photographers.

25 thoughts on “राम और ईसा मसीह हमारे लिए प्रेरणा के स्रोत क्‍यों हैं? Rama & Jesus – Inspiration [Hindi Dub]

  • November 12, 2017 at 6:10 am
    Permalink

    माता सीता बन में नहीं मरे थे वो राज सभा के आगन में मरे थे..और माता सीता ने प्रभु श्री राम को देखा भी था ये सत्य कहानी नहीं है..sadhguru झूट बोल रहे है..क्यू के ramanad सागर का रामायण में येही दिखाया है और सारे लोग इशे सत्य भी कहा है फिर कैसे हो शकता है की माता सीता प्रभु श्री राम को देखे बिना ही मर गए..ये कहानी झूट है जिशे बिस्वास ना हो ramanand सागर का रामायण देख ले..बकबास गुरु है जो आया मन में वोही बोल देता है..hehehehehehehe पाखंडी है…कुछ जानता नहीं और बोले ही जाता है..

    Reply
  • November 12, 2017 at 6:10 am
    Permalink

    झुता है कोई भी हिंदू राम या कृष्ण के बातो से प्रेरणा नही लेता कोई हिंदू राम के तारह जीवन जीना चाहता ही ना कोई हिंदू महिला सीता को आदर्श मनती है

    Reply
  • November 12, 2017 at 6:10 am
    Permalink

    Bhagwan Ram is my ideal. His Life teach many things

    Reply
  • November 12, 2017 at 6:10 am
    Permalink

    I Must say
    Hats Off to the Isha Hindi Dubbing team 💐😊

    You Dubb all the videos with 100%
    Perfection
    Finest voice perfect Words

    Beautiful 💐😊

    Reply
  • November 12, 2017 at 6:10 am
    Permalink

    मैं सद्गुरू से प्रभावित हूँ। – चंद्र शेखर सिंह

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *